हेरिटेज आर्क

उत्तर प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में विकास करने के लिए समाजवादी सरकार ने हेरिटेज आर्क योजना तैयार की है। इसके माध्यम से राज्य के तीन महत्वपूर्ण पर्यटन शहरों आगरा, लखनऊ और वाराणसी में योजना को मूर्त रूप देने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। समाजवादी सरकार के इन प्रयासों का ही नतीजा है कि उत्तर प्रदेश पर्यटन के क्षेत्र में देश में नई ऊंचाई छू रहा है। इस योजना के माध्यम से सरकार न सिर्फ ऐतिहासिक महत्व के स्थलों के माध्यम से सैलानियों को आकर्षित करने का काम कर रही है, बल्कि योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की विरासत को संजोने और संवारने का भी काम किया जा रहा है।

  • प्रदेश सरकार ने आगरा, लखनऊ और वाराणसी को हेरिटेज आर्क के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया है।
  • इसमें से 12 से 15 जिलों में करीब 540 किमी. का दायरा शामिल किया गया है।
  • हेरिजेट आर्क के तहत इन तीनों शहरों में सड़क सहित बुनियादी ढांचा सुधारने की कार्यवाही की जा रही है।
  • पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए ऐतिहासिक इमारतों की स्थिति में भी सुधार किया जा रहा है।
  • हेरिटेज आर्क को अमली जामा पहनाने के लिए पुरानी इमारतों को हेरिटेज होटल में परिवर्तित किया जाएगा।
  • हेरिटेज महत्व के किलों, हवेलियों, महलों की मिल्कियत के दस्तावेज संबंधी सरकारी औपचारिकताओं को आसान बनाने का भी प्रावधान किया गया है।
  • इससे इन संपत्तियों पर बैंकों से कर्ज मिलने में आसानी होगी।
  • पर्यटकों के आवागमन को सुगम बनाने के लिए अंतरराज्यीय वायु सेवा संचालित की जा रही है।
  • वायु सेवा प्रदाता को कर में छूट, वैट में छूट, सुख-सुविधा कर में छूट दी गई है।