उद्योग

औद्योगिक विकास के लिए कृषि तकनीक के आधुनिकीकरण के साथ-साथ विज्ञान और प्रौद्योगिकी के माध्यम से नए उत्पाद तैयार करना महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही पूंजी निर्माण और समग्र आर्थिक विकास के लिए औद्योगिक विकास भी बेहद अहम है। समाजवादी पार्टी ने इस बात को समझते हुए उत्तर प्रदेश में औद्योगिक विकास को सुनिश्चित करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

उत्तर प्रदेश देश की सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है तो यहां कुशल श्रमिकों की संख्या भी सबसे ज्यादा है। साथ ही साथ करीब 20 करोड़ लोगों के साथ देश में सबसे ज्यादा उपभोक्ता भी उत्तर प्रदेश में हैं। पिछले एक दशक में उत्तर प्रदेश में सकल घरेलू उत्पाद में 100 गुना से अधिक वृद्धि हुई है। 2014 & 15 में यहां सकल घरेलू उत्पाद 16100 करोड़ रुपये था।

राज्य के बुनियादी ढांचे, उद्योगों को प्रोत्साहन देने की नीति और संसाधन उत्तर प्रदेश में औद्योगिक विकास के अनुकूल हैं। समाजवादी पार्टी ने सुनिश्चित किया है कि उद्योगपतियों को इन संसाधनों का बेहतर फायदा मिल सके। प्रदेश में औद्योगिक निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए एक विशेष संगठन उद्योग बंधु बनाया गया है।

समाजवादी पार्टी की सरकार ने प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में कपड़ा, कृषि, चमड़ा और ईपीआईपी इंडस्ट्रीज स्थापित करने की पहल की है। प्रदेश में ढांचागत बदलाव लाकर इससे दूसरे तमाम शहरों को जोड़ने का भी काम किया गया है। इसके चलते प्रदेश के हर सेक्टर में औद्योगिक केंद्रों की स्थापना और पीपीपी माॅडल पर विकसित परियोजनाओं को देखा जा सकता है।